Google+ Followers

शनिवार, 16 जुलाई 2011

मिठाई बनाने के घरेलु नुस्खे

                                                                    


                                   घर मंे कोई पार्टी हो या कोई त्यौहार हा,े बिना मिठाईयों व मनभावन पकवानो के पार्टी या त्यौहार का मजा अधूरा रहता है।फिर घर में अपने हाथ से बनी हुई मिठाईया हो तो क्या कहना, मेहमान भी  बिना तारीफ किये हुए नहीं रहेगे।मिठाई बनाते समय कुछ बातों का ध्यान का रखा जाय ता,े गृहणी कई परेशानी का  सामना करने से बच सकती है।


 बेसन,मावा,रवा या कुछ भी मिठाई बनाने सम्बन्घी वस्तु कम ऑंच पर सेके।

 चाशनी पानी के बजाय दूध में बनाए जाने पर ज्यादा स्वादिष्ट मिठाई बनती है।
 चाशनी बनाते समय उसमें थोडी मात्रा में दूध डालकर शक्कर की गंदगी को साफ कर लेना चाहिए।
 किसी भी तरह की बर्फी बनानी हो तो गैस पर से उतारने के बाद थोडी देर तक कडाई में अच्छी तरह से हिलाए,इससे बर्फी अच्छी बनती है।

 बर्फी थाली में डालते समय घी की जगह तेल लगाने से बर्फी जल्दी निकलेगी ।
 

 इलायची,जायफल,एसेंस या कोई सुगन्धित पदार्थ यदि मिठाई में डालना है, तो वह मिठाई ठडी होने पर डाले ।
 नारियल की बर्फी बनाते समय नारियल और दूध को मिक्सर में 2-3बार चलाने के बाद बर्फी बनाए,अच्छी बनेगी।
 नये टूथ-ब्रश पर कोई भी रंग खानेवाला लगाकर ब्रश को हल्के हाथ से दबाए, इससे बर्फी पर रंग फेैल जायगा और बर्फी विशेषकर मावे की सुंदर दिखाई देगी।

 बेसन के लड्डू बनाने हो तो, बेसन रवादार होना चाहिए ताकि मुॅंह में चिपके नहीं।
 रवे के लड्डू बनाते समय रवा सूजी महीन होना चाहिए।
 लड्डू में घी डालते समय घी ज्यादा गरम न करे सिर्फ हल्का गला ले।




 खीर बनाते समय दूध में खस-खस के दाने पीसकर डालने और शक्कर अन्त में डालने से खीर स्वादिष्ट बनेगी।

 कस्टर्ड बनाते समय उसमें एक चम्मच शहद मिलाने से स्वाद और सुंगध में वृद्धि होती है।
 मालपुए का घोल बनाते समय तथा हलुआ बनाते समय गर्म पानी का उपयोग करना चाहिए।

                 इन टिप्स को आजमाकर मिठाईयों का जायका बढाया जा सकता है और बदले में मेहमानो से प्रंशसा रूपी मिठाई पाई जा सकती है।
                    



नोट- लेखिका -भुनेष्वरी मालोत यह आर्टिकल राजस्थान पत्रिका में दीपावली अंक  24 अक्टूम्बर 2003 में छप चुका है।
















1 टिप्पणी: